गुजरात और हिंदुत्व प्रोज़ेक्ट- तीस्ता सेतलवाड़ के संस्मरण का एक अंश

गुजरात के विधानसभा चुनाव के प्रचार से एक बात जो साफ़ हुई है वह यह है कि नरेन्द्र मोदी और बीजेपी का विकास का चेहरा महज एक छलावा भर है. इस चुनाव में कांग्रेस से मिल रही जबरदस्त टक्कर के बीच बीजेपी ने विकास को छोड़ अपना अल्पसंख्यक-विरोधी पैंतरा फिर से बेशर्मी से इस्तेमाल किया [… click here for more]

Are we living under fascism already?

Newsletter this Week.. In the latest post on the LeftWord Blog, Vijay Prashad points towards his rejoinder to Jairus Banaji’s ad hominem attack on Prakash Karat. Karat makes a distinction between a fascist and an authoritarian regime, and Banaji, rather than engaging with the substance of Karat’s argument, makes an ill-toned attack on what he considers ‘Stalinism’. In fact, Banaji displays the [… click here for more]